• +91 9887734748
  • info@behappykeephappy.com

जीवन में रॉकेट की तरह बने.

जीवन

जब अंतरिक्ष में रॉकेट प्रक्षेपित किए जाए है तो निश्चित दूरी तय करने के बाद उनका कुछ हिस्सा अलग हो जाता है। वे धीरे धीरे हल्के होकर ऊपर जाते है और अपने लक्ष्य तक पहुंचते है। ठीक यही बात हम सब पर भी लागू होती है। जीवन में ऊंचाई और अपना लक्ष्य हासिल करना है तो वह जरूरी है हम भीतर से हल्के हो। हमारा बैगेज कम से कम हो, चाहे वो इमोशनल हो या मेंटल। किसने आपके साथ क्या किया, कब किया, कैसे किया, इन सारी बातों का बोझ यदि आप पर रखेंगे, तो कभी ऊपर नहीं पहुंच पाएंगे, न लक्ष्य हासिल कर पाएंगे। जीवन में बड़ा हासिल  करने के लिए नजरअंदाज करने की कला आनी जरूरी है।

ऐसा कई बार होता है कि जाने या अनजाने में लोग आपके साथ वैसा व्यवहार नहीं करते, जैसी आपकी उनसे अपेक्षा होती है। इस वजह से आपको बुरा भी महसूस होता है। उस व्यक्ति के प्रति दुर्भावना को आप में लादे सालो साल घूमते रहते है। जब भी उस व्यक्ति का ख्याल दिमाग में आता है, तो आप नकारात्मकता की भावना से भर उठते है। इस वजह से उस समय आप जो काम कर रहे होते है, उसमे वैसी गुणवत्ता नहीं रह जाती जो होनी चाहिए थी।

अगर आप सफलता पाना चाहते है तो अपने दिल और दिमाग को तमाम बोझों से आजाद करे। पूरे दिन में जितनी भी नकारात्मकता आपके भीतर अाई हो, उससे आजाद होकर ही रात को सोए। कोशिश करे कि कोई भी विवाद, दुहामनी या बैर ऐसा ना हो जो अगले दिन, अगले हप्ते, अगले महीने या अगले साल तक पाए।

अब सवाल यह है कि क्या करे ? 
अगर आपने कुछ गलत किया है तो माफी मांग ले। अगर सामने वाले ने गलत किया है तो उसे माफ करदे। माफी मांगना और माफ करना, वे दोनों कार्य उच्च चरित्र वाले लोग ही सकते है। इसी तरह किसी का शुक्रिया अदा करना हो, तो तुरंत करे। प्यार जताना हो, तो तुरंत जता दे। किसी की प्रशंसा करनी हो, तो तुरंत कर दे और हल्के हो जाए। कई नकारात्मक एहसास को मन में हर पल बड़ा ना करे।

Leave a Comment


Recent Comments